दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी द्वारा दिनांक 20-02-2020 को “एकल उपयोग प्लास्टिक को ना कहें, भविष्य को हाँ कहें” विषय पर अशोक विहार शाखा में पर्यावरण जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें डॉ. बबीता गौड़, वरिष्ठ पुस्तकालय एवं सूचना अधिकारी द्वारा एकल उपयोग प्लास्टिक के दुष्प्रभावों पर प्रकाश डालते हुए सभी दर्शकों से एकल उपयोग प्लास्टिक का निस्तारण करने तथा पर्यावरण की संरक्षता के लिए सहयोग देने का अनुरोध किया । कार्यक्रम में डॉ. महेंद्र नागपाल, निगम पार्षद, नगर निगम एवं पूर्व विधायक, दिल्ली विधान सभा मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे, उन्होंने सभी दर्शकों से अधिक से अधिक संख्या में पेड़ लगाने का प्रयास करने का अनुरोध किया । अंत में कार्यक्रम से संबंधित प्रश्नोतरी का आयोजन किया गया तथा 10 विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया गया।

दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी के सचल पुस्तकालय विभाग द्वारा दिनांक 20.02.2020 को कुशक हिरनकी क्षेत्र में ‘स्वच्छ भारत अभियान’ के अंतर्गत 5 वर्ष से 14 वर्ष के बच्चों के लिए “स्वच्छता ही सेवा है” विषय पर भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया | बच्चों ने बहुत ही उत्साह से प्रतियोगिता में भाग लिया और स्वच्छता के महत्व पर अपने विचार व्यक्त किए | कार्यक्रम के दौरान मौजूद सभी लोगों को दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी द्वारा दी जाने वाली सेवाओ के बारे में बताया गया | कार्यक्रम के अंत में विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कार एवं प्रमाण पत्र प्रदान किये गए |

दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी द्वारा दिनांक 18 फरवरी 2020 को “पर्यावरण को बचाना है, एकल उपयोग प्लास्टिक को जड़ से मिटाना है” विषय पर बवाना शाखा में पर्यावरण जागरुकता के तेहत कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें डॉ. बबीता गौड़, वरिष्ठ पुस्तकालय एवं सूचना अधिकारी द्वारा एकल उपयोग प्लास्टिक के निस्तारण पर प्रकाश डाला गया । कार्यक्रम में प्रो. ओमीश परूथी, प्रधान संपादक, मंगल विमर्श पत्रिका मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे तथा एकल उपयोग प्लास्टिक के हानिकारक प्रभावों को दर्शाते हुए दर्शकों को प्लास्टिक उपयोग न करने की शपथ ग्रहण करायी । अंत में कार्यक्रम से संबंधित प्रश्नोत्तरी का आयोजन किया गया जिसमें प्रतिभागियों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया तथा 10 विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया गया ।

दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी द्वारा ज़ाकिर हुसैन दिल्ली महाविद्यालय, दिल्ली विश्वविद्यालय में तीन चरणों में वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है | दिनांक 17 फरवरी 2020 को “संविधान में प्रदत्त मौलिक कर्तव्य” विषय पर प्रतियोगिता के द्वितीय चरण का आयोजन किया गया जिसमें निर्णायक मंडल में डॉ. राजा राम यादव, डॉ. दीनदयाल तथा श्री संजय कुमार मिश्रा सम्मलित रहे | सभी प्रतिभागियों ने मानवता के मौलिक कर्तव्यों पर प्रकाश डालते हुए अपना पक्ष व विपक्ष रखा | कार्यक्रम के अंत में तृतीय चरण के प्रतिभागियों की घोषणा की गई |

दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी द्वारा दिनांक 16 फरवरी 2020 को ज़ाकिर हुसैन दिल्ली महाविद्यालय, दिल्ली विश्वविद्यालय के सहयोग से “सदन का मत है कि स्वच्छता नागरिक जीवन की मानसिकता का प्रतीक है” विषय पर महाविद्यालय परिसर में वाद विवाद प्रतियोगिता आयोजित की गई जिसमें विभिन्न महाविद्यालयों से 36 दलों ने भाग लिया । यह प्रतियोगिता तीन चरणों में आयोजित की गई । प्रतियोगिता को एक अच्छा स्तर प्रदान करते हुए प्रतिभागियों ने बड़ी कुशलता से प्रदत्त विषय पर अपना पक्ष रखा ।